हरियाणा की तरक्की में बिहारियों का बड़ा योगदान-क्यों और किसको लिखा CM मनोहर लाल ने पत्र ?

प्रवासी मजदूरों के अपने गांव , अपनी जन्मभूमि पर लौटने की लगातार आ रही खबरों जे बीच हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा है कि हरियाणा की तरक्की में बिहारियों का बहुत बड़ा योगदान है। उन्होंने कहा, ” हम इस बात को समझते हैं कि हरियाणा की तरक्की में बिहारियों का भी बहुत बड़ा योगदान है।हरियाणा में आकर काम करने वाला भारत का हर नागरिक चाहे वो किसी भी राज्य में पैदा हुआ हो, हमारे लिए किसी भी हालत में हरियाणवी से कम नहीं है।”

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने ये सारी बातें उस पत्र में लिखी है जो उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लिखा है।

बिहार सरकार ने हरियाणा सरकार को लिखा था पत्र

पत्र के इस आदान-प्रदान का सिलसिला बिहार सरकार के उस पत्र से हुआ था जो उन्होंने हरियाणा सरकार को लिखा था। देश भर से बिहारी लोगों का बिहार वापसी का सिलसिला जारी है और हरियाणा से भी बिहारी लोग अपने गांव की तरफ रवाना हो रहे हैं। इसे देखते हुए बिहार सरकार ने हरियाणा सरकार को पत्र लिखकर धन्यवाद देते हुए हरियाणा सरकार द्वारा खर्च की गई धनराशि को वापस देने का प्रस्ताव दिया था।

मनोहर लाल ने नीतीश कुमार को लिखा पत्र

बिहार सरकार के उसी पत्र के जवाब में हरियाणा के मुख्यमंत्री ने सीधे बिहार के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर बिहारियों की जमकर तारीफ भी की और साथ ही पैसा देने के बिहार सरकार के प्रस्ताव को भी आभार जताते हुए ठुकरा दिया। मनोहर लाल ने अपने पत्र में आगे लिखा,

” नीतीश जी, आपके अधिकारियों का पत्र मिला जिसमें आपने लॉकडाउन के चलते हरियाणा में फंसे बिहार के लोगों के बारे में चिंता व्यक्त की है और हरियाणा सरकार द्वारा दी जा रही सुविधाओं के एवज में खर्च हुई धनराशि देने का प्रस्ताव दिया है। अपने राज्य के नागरिकों के बारे में आपकी चिंता उचित और सराहनीय है। मैं इस पत्र के माध्यम से आपको आस्वस्त करना चाहता हूं कि हरियाणा में रह रहे प्रत्येक भारतीय नागरिक हमारे भी उतने ही हैं, जितने उन राज्यों के जहां से वे आते हैं।”

उन्होंने आगे लिखा, ” हमने उन्हें अपनों की तरह रखा है और उनका ख्याल किया है। वे हमारी भी जिम्मेदारी है। हम लॉकडाउन में फंसे हर व्यक्ति की देखभाल कर रहे हैं और राष्ट्र निर्माण में उनके सहयोग को देखते हुए पहले की तरह ही हरियाणा सरकार आगे भी इन प्रवासियों का खर्चा स्वयं उठाएगी।

इसे भी पढ़ें :  Golden Girl हिमा दास का स्वर्णिम अभियान जारी, 20 दिनों में जीता 5वां गोल्ड मेडल